अक्सर हम अपनी एड़ियों को सिर्फ़ इसलिए नज़रअंदाज़ करते हैं क्योंकि लोगों का ध्यान एड़ियों पर कम ही जाता है. ऐसे में लोग इनकी केयर करने की ज़रूरत नहीं समझते, जिससे एड़ियों की हालत और भी ख़राब हो जाती है. पूरे शरीर का वज़न हमारी एड़ियों पर होता है, ऐसे में इनकी ख़ास देखभाल ज़रूरी है. हम आपको एड़ियों को स्वस्थ और मुलायम बनाने के तरीक़े बता रहे हैं.

एड़ियां फटने की वजह
– त्वचा में मॉइश्‍चर की कमी.
– पैरों की देखभाल न करना.
– ग़लत साइज़ के जूते पहनना.

– ज़्यादा समय तक खड़े रहना या सख़्त फ्लोर पर खड़े रहना.
– प्रदूषण में ज़्यादा देर तक पैरों को खुला रखना.
– इनके अलावा कई प्रकार की बीमारी, जैसे- थायरॉइड, डायबिटीज़, सोरायसिस, कॉर्न आदि की वजह से भी एड़िया फटती हैं.

होममेड मॉइश्‍चराइज़र
– अगर आपके फटे हील्स से ख़ून आ रहा हो, तो नीम और तुलसी के पत्तों को हल्दी के साथ मिक्स करके फटी एड़ियों पर लगाएं.
– ग्लिसरीन को गुलाबजल के साथ मिक्स करके क्रैक्स पर लगाएं, इससे एड़ियां नरम-मुलायम हो जाएंगी और उनमें क्रैक्स नहीं पड़ेंगे.
– किसी भी तरह का ऑयल पैरों के लिए एक नैचुरल मॉइश्‍चराइज़र होता है.

वेजिटेबल ऑयल, जैसे- ऑलिव ऑयल, नारियल का तेल, तिल का तेल एड़ियों को मुलायम बनाता है. रोज़ाना रात को बेड पर जाने से पहले पैरों में इनमें से कोई भी तेल लगाकर हल्का-सा मसाज कर लें.
– केला, पाइनेप्पल, एवोकैडो, पपीता के पल्प से मसाज करें. इससे एड़ी की त्वचा मुलायम होगी.

– एसिडिक होने की वजह से नींबू एड़ियों की रफ़ त्वचा को सॉफ्ट बनाता है, जिससे एड़ियां फटती नहीं हैं. इसके लिए आप अपने पैरों को गुनगुने पानी में डालकर रखें, पानी में नींबू का रस डालें. कुछ देर बाद प्यूमाइस स्टोन से रगड़ें, फिर पानी से अच्छी तरह से धोकर तौलिए से सुखा लें. एड़ियां स्वस्थ रहेंगी.